Friday, Feb 24, 2017
Homeसोशल-वाणी

“सोशल मीडिया पर सजे अफवाही बाजारों पर नज़र- सही पकड़े हैं @###”।

दिल्ली यूनिवर्सिटी के रामजस कॉलेज में कल और आज एबीवीपी ने हिंसा का जो नंगा नाच दिखाया है उससे एक

आलोचक उनके लिए दुश्मन होता है, 'दुश्मनी' निकालने का उनके पास एक ही ज़रिया है कि आलोचक को बदनाम करो,

यूपी विधानसभा में साल 2013 का मुजफ्फनगर दंगा मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की सबसे बड़ी नाकामी बनकर सामने आया है। ज्यों-ज्यों

‘वैलेंटाइन’ क्या होता है, कोई राज्यवर्धन शर्मा से सीखे जो 10 वर्षों से कोमा में पड़ी पत्नी की कर रहे

प्रेस कौंसिल की मौत हो गई है, आइए एक मिनट का मौन रखें। यूपी की जिन 73 सीटों पर आज

बीते कल मध्यप्रदेश में पकड़े गए 11 आईएसआई एजेंटो पर राजनीति गरमा गई है। पकड़े गए एक एजेंट ध्रुव सक्सेना