देशभर में हो रही हिंसात्मक घटनाओं से देश का हर एक नागरिक भय में है। गौहत्या के नाम पर हो रही हिंसा में पूरा देश ही पीएम मोदी से देश की ऐसी स्थिति का जवाब मांग रहे हैं।

वहीँ आप नेता अलका लांबा ने भी नरेंद्र मोदी की नीतियों पर गहरा कटाक्ष किया है। गौहत्या के नाम पर हो रही हिंसा के विरोध में और हिन्दू मुस्लिम एकता का प्रदर्शन करने के लिए #NotInMyName नाम का कैम्पेन चलाया गया।

जिस कैम्पेन का समर्थन करते हुए अलका ने मोदी सरकार के 3 सालों पर प्रहार किया है। उन्होंने ट्वीट के ज़रिये कहा कि, ‘भले ही 3 साल लगे हो पर का गुजरात मॉडल अब भारत में पूरी तरह से लागू होते हुए दिखने लगा है।‘ अलका ने देश में हो रही हिंसात्मक घटनाओं को गुजरात दंगो से जोड़ते हुए मोदी के 3 सालों पर सवाल उठाए है।

दरअसल गुजरात में हुए दंगो के समय नरेंद्र मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री और अमित शाह गृह मंत्री थे। गुजरात दंगो में कई बड़े नेताओं के नाम सामने आये थे जो की मोदी सरकार के ही नेता थे।

गुजरात में हुए हिन्दू मुस्लिम दंगो के बाद अब देश की ऐसी स्थिति हिंदू-मुस्लिम एकता के लिए चिंता का विषय है। खासकर गौहत्या के नाम पर बुरी तरह मार दिए जाने वाले जुनैद और पहलू खान के साथ जो भी हुआ उसके बाद हर कोई भय की स्थिति में है।

Loading...
loading...