प्रधानमंत्री बनने से पहले पीएम मोदी ने 1 सिर के बदले 10 सिर ले आने का वादा किया था लेकिन वक्त के साथ सारे वादे जुमले साबित होते जा रहे हैं।

सुंजवां में आतंकियों ने आर्मी कैंप पर हमला करके फिर 5 जवानों को शहीद कर दिया है। 44 दिनों में 26 भारतीय जवान शहीद हो चुके हैं।

जिस हिसाब से अबतक 260 सिर ले आना चाहिए था लेकिन सर्जिकल स्ट्राइक का श्रेय लेने वाली मोदी सरकार जवानों की मौत पर चुप है।

साल 2018 में 26 जवानों की मौत पर हंगामा मच गया है। पुराने बयानों को लोग वायरल करके सरकार को याद दिला रहे हैँ।

चीन को लाल आँखें औऱ 56 इंची सीने की बातें पहले जुमला साबित हो चुकी हैं अब 10 सिर लाने की बात भी जुमला लगने लगी  है।

गत शनिवार को जम्मू सुंजवां फौजी कैंप पर फिदायीन हमला हुआ था। इस हमले में 6 जवान शहीद हो गए थे और एक नागरिक भी मारा गया था। सर्च आपरेशन के दौरान रविवार को एक जेसीओ, दो हवलदार और एक हवलदार के पिता का शव बरामद हुआ थे।

Loading...
loading...