बीते दिनों जानी मानी शख्शियत मौलाना अंजार शाह कासमी को दिल्ली पुलिस बंगलोर जा कर उनको बड़े आराम से गिरफ्तार कर लेती है। उन पर इल्जाम है की वो अलकायदा के एशिया कमांडर है। अलकायदा का एशिया कमांडर आराम से घर पर बैठा हो और दिल्ली पुलिस बड़े आराम से उसके घर जा कर गिरफ्तार कर लेती है और गिरफ्तार करके बगलोर से दिल्ली वापस आ जाती है और दिल्ली में हमारे जज शहाब 20 जनवरी तक रिमांड पर भी भेज देते है। हँसना और रोना दोनों साथ में आ रहा है।

ये कैसा अत्याचार है। हजारो निर्दोष मुस्लिम नौवजवान आतंकवाद के नाम पर जेलों में सड़ रहे है। पहले कांग्रेस थी तो वो सिमी और इंडियन मुजाहिदीन के नाम पर अल्पसंख्कों की जिंदगी बर्बाद करती थी अब BJP ISIS और अलकायदा के नाम पर मुस्लिमो की जिंदगी बर्बाद कर रही है।

असल में ये इन मुस्लिम नौजवानो की जिंदगी बर्बाद करने के पीछे पूरी तरह से ब्राह्मणवाद ही है। बीजेपी और कांग्रेस दोनों ही दमनकारी ब्राह्मणवादीयो की पार्टी है, ये आतंकवाद का डर दिखाकर भारत के लोगो को बेवकूफ बनाते है और सरकार की नाकामियों को छुपाते है। और हमेशा सत्ता का सुख भोगते है।

1990 के दशक में मरे हुए ब्राह्मणवाद को जिन्दा करने के लिए मंदिर -मस्जिद, हिन्दू-मुस्लिम का ढ़ोंग अपना कर बीजेपी और कांग्रेस अपना अस्तित्व बचाये हुए है और SC, ST, OBC को मूर्ख बना रही है। 90% SC, ST, OBC और माइनॉरिटी आज भी इन ब्राह्मणो के चक्कर में मूर्ख बने हुए है और ये 10% स्वर्णवादी मानसिकता वाले देश की सत्ता पर काबिज होकर सभी सरकारी नौकरी और संसाधनो पर कब्ज़ा कर लिए है।

हर महीने आरएसएस वालो की बम की फैक्ट्री देश के किसी न किसी कोने में पकड़ी जाती है, जितना बम बिस्पोट होता है उसकी जांच का दायरा इन भगवा के ऊपर केंद्रित करके करे तो सारा राज खुल जायेगा कि देश में कौन बम फोड़ता है। अफ़सोस तो इस पर होता है कि इन मनुवादियों की मीडिया मुस्लिमो को ही आतंकवादी कहती है। जो आरएसएस के भगवा बम बनाने में पकड़े जाते है उन पर कुछ नहीं कहती है।
आप को जानकर आश्चर्य होगा कि आरएसएस को इजराइल की ख़ुफ़िया एजेंसी मोशाद फंडिंग करती है।

इसीलिए ये उच्चवर्ग दंगा कराता है, SC, ST, OBC को मुस्लिमो से लड़ाते है ताकि SC, ST, OBC को मुस्लिमो से लड़ा कर मुस्लिम विरोधी समाज का निर्माण करके बीजेपी और कांग्रेस की सरकार केंद्र में हमेशा बनी रहे। ब्राह्मणवादी सोच वाले कभी नहीं चाहते हैं कि SC, ST, OBC की पार्टी केंद्र में सरकार बनाये।
लेकिन बहुत जल्द मौलाना सज्जाद नोमानी और वामन मेश्राम की अगुवाई में SC, ST, OBC और माइनॉरिटी देश की सत्ता पर काबिज हो जायेंगे ……. इस तरह होगा अंत इन बराह्मणवादीओ के अत्याचार का।

लेखिका- फ़ातिमा फरहीन (ये लेखिका के अपने विचार हैं)

Loading...
loading...