रविवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने गुजरात चुनाव प्रचार के दौरान कहा कि, गुजरात चुनाव में पाकिस्तान दख़ल दे रहा है।

पाकिस्तान को लेकर दिया गया बयान अब उनकी गले ही हड्डी बन गई है। उन्होंने मणिशंकर अय्यर पर आरोप लगाते हुए कहा कि, 6 दिसम्बर को पाकिस्तान के बड़े अधिकारियों के साथ उन्होंने मुलाकात की। हालाँकि पाकिस्तान ने प्रधानमंत्री के बयान को गलत और गलत करार दिया है।

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार इस मुलाकात में मनमोहन सिंह, हामिद अंसारी, भारत के पूर्व आर्मी चीफ दीपक कपूर से लेकर पूर्व विदेश सचिव और पाकिस्तान में भारत के उच्चायुक्त रह चुके शंकर बाजपेई जैसे अधिकारी शामिल थे।

कल्किपीठ के आचार्य प्रमोद कृष्णन ने ट्वीट करके प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर तंज किया है। उन्होंने कहा, “देश के सारे ‘दुश्मन’ मणिशंकर के घर ‘दिल्ली’ में बैठक कर रहे थे, तो ‘चौकीदार’ कहाँ था।” सोशल मीडिया पर लोगों ने कहा कि देश के चौकीदार उस समय गुजरात में रैलियां कर रहे थे।

बता दें कि मणिशंकर अय्यर के साथ ये मुलाकात 6 दिसम्बर को पाकिस्तान के पूर्व विदेश मंत्री खुर्शीद महमूद कसूरी के भारत आने पर हुई थी।

Loading...
loading...