जम्मू-कश्मीर में सीआरपीएफ कैम्प पर हुए आतंकवादी हमले में छह जवान शहीद हो गए। इससे पहले जम्मू के सुंजवां सैन्य शिविर पर आतंकी हमला हुआ था।

लगातार शहीद हो रहे जवानों पर बीजेपी खूब देशभक्ति का सर्टिफिकेट बाँट और देशभक्ति दिखा रही है लेकिन सैनिकों की ‘शहादत’ होने के बाद उनकी अंतिम यात्रा तक में कोई बीजेपी नेता शामिल नहीं हो हुआ।

भारतीय जवानों के आतंकी हमलों में शहीद होने पर कल्किपीठ के आचार्य प्रमोद ने भाजपा पर शहीदों ने नाम पर सियासत करने का आरोप लगाया है। उन्होंने ट्वीट करके कहा कि…

“शहीदों की “शहादत” पे “सियासत” करना, बीजेपी से सीखना चाहिये।” पीएम मोदी ने एक चुनावी रैली में कहा था “हम एक सर के बदले पाकिस्तान के दस सर लाएंगे।” मगर यहाँ आये दिन देश के वीर सैनिक मारे जा रहे हैं।

गौरतलब है कि जम्मू में सीआरपीएफ कैम्प पर हुए आतंकी हमले में बिहार के मुजाहिद खान शहीद हो गए थे, लेकिन उनकी अंतिम यात्रा में भाजपा और जेडीयू का एक भी मंत्री और स्थानीय नेता शामिल नहीं हुआ। वहीं स्थानीय बीजेपी सांसद राजकुमार सिंह भी अनुपस्थित रहे।

Loading...
loading...