राजस्थान के राजसमंद में नफ़रत के नाम पर बेरहमी से हत्या करने का एक मामला सामने आया है। यह इंसानियत को शर्मसार और दिल दहला देने वाली घटना है।

मजदूरी करने वाले एक शख्स को धारदार हथियार से काटकर उसपर पेट्रोल छिड़क कर जिंदा आग के हवाले कर दिया। मुख्य आरोपी का नाम शम्भूलाल रेगार है जिसे गिरफ्तार कर लिया गया है। उसके साथ में एक और शख्स था जो इस पूरी घटना की वीडियो बना रहा था। अब सोशल मीडिया पर इस घटना का वीडियो वायरल हो रहा है।

मृतक मजदूर का नाम मोहम्मद अफराजुल है जो पश्चिम बंगाल के मालदा जिले का रहने वाला था। वह राजस्थान में अपने परिवार के साथ मजदूरी करता था। हत्या करने वाला शम्भूलाल उसे काम देने के बहाने लेकर आया और फिर घटना को अंजाम दिया। इस घटना का वीडियो आपकी सोच से भी ज्यादा वीभत्स है, जिसे देखकर किसी की भी रूह कांप जाए।

घटना की सूचना मिलते ही एसपी, एएसपी समेत तमाम आला अधिकारी मौके पहुंचे। राजस्थान के गृह मंत्री गुलाबचंद कटारिया ने मामले की जाँच के लिए एसआईटी का गठन किया है।

समाज को यह सवाल करना होगा कि आखिरकार इन सिलसिलेवार तरीके से की जा रही हत्याओं का ज़िम्मेदार कौन है ? नफ़रत को बढ़ावा देने वाली भाजपा की राजनीति या फिर इस तरह की राजनीति को जगह देने वाली मीडिया ?

यह घटना निश्चित रूप से हमारे लिए सामाजिक शर्म की बात है। क्योंकि मरने वाला अफराजुल मुसलमान है। हम सबको हिन्दू-मुसलमान से ऊपर उठकर ऐसी घटनाओं को या ऐसे सोच रखने वाले लोगों को बहिष्कार करने की ज़रूरत है।

Loading...
loading...