बॉर्डर-ग्वास्कर ट्रोफी के तीसरे टेस्ट मैच में चेतेश्वर पुजारा ने दोहरा शतक लगाया। पुजारा ने रांची टेस्ट मैच में अपने कैरियर का तीसरा दोहरा शतक लगाया है। टेस्ट क्रिकेट में यह पुजारा का 11वां शतक है। इस सीरीज में पुजारा का यह पहला शतक है, वहीं 2017 में भी यह पुजारा का पहला शतक है।

चेतेश्वर पुजारा को टीम का नया ‘राहुल द्रविड’ कहा जाता है, राहुल की तरह ही वह भी सामने वाली टीम के लिए दीवार बन जाते हैं और एक तरफ से विकेट का पतन रोक देते है । रांची टेस्ट में दूसरे दिन बल्लेबाजी करने आए पुजारा आज चौथे दिन तक टिके  हुए थे।  दोहरा शतक लगाने के बाद ही पुजारा नैथन लायन का शिकार हो गए। पुजारा ने 505 गेंदो का सामना करके 202 रन बनाए।
भारतीय टीम ने चौथे दिन के टी ब्रेक से पहले 8 विकेट खोकर 557 रन बना लिए हैं। भारत ने इसके साथ ही टीम ऑस्ट्रेलिया पर 106  रनों की बढ़त भी बना ली है। पुजारा के अलावा व्रिधिमान साहा ने भी शानदार शतक लगाया हैै।
ऑस्ट्रेलिया की तरफ से पैट क्युमिन्स ने सबसे ज्यादा 4 विकेट लिए हैं। स्टीव कीफी को (2), जोश हैजलवूड (1) और नैथन लायन (1)  विकेट मिला।

Tag #Cheteshwar Pujara #Ranchi Test #Border Gavaskar Trophy #Bcci

Loading...
loading...