देश में जिस तरह का माहौल बनता जा रहा है उससे अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भारत की छवि धूमिल हो रही है। हाल ही में 14 फरवरी यानि की वैलेंटाइन डे पर देश के कई हिस्सों में तथाकथित संस्कृति रक्षा के नाम पर कुछ उग्र हिंदूवादी संगठनों ने जगह-जगह लोगों पर हमले किये।

इस तरह के हमले भारत में ही नहीं बल्कि अन्य देशों में भी ख़बरों में रहे। अमेरिका के जानेमाने न्यूज़ चैनल CNN live ने इन घटनाओं पर चर्चा की। चैनल ने कहा कि वैलेंटाइन डे जो कि प्यार और इज़हार का दिन है। उसी दिन भारत के उत्तरी हिस्से में कुछ उग्र हिन्दू संगठनों सड़कों पर लोगों को पीट रहे हैं।

खबर में बताया गया है कि उत्तरप्रदेश में एक उग्र हिन्दू संगठन ‘श्री राम सेना’ ने रेस्टुरेंट में खाना खा रहे दो लड़का-लड़की को बुरी तरह से पीटा। इस बात की भी चर्चा की गई कि ये लोग वैलेंटाइन डे को पश्चिम का प्रोपेगंडा बताते हैं।

चैनेल ने इस तरह के रवैय्ये की आलोचना करते हुए इसे प्रेम और महिलाओं के अधिकारों के विरुद्ध बताया है।

एक तरफ प्रधानमंत्री मोदी देश के विकास और उसको हर स्तर पर आगे ले जाने की बात करते हैं। दूसरी तरफ उनकी ही पार्टी की विचारधारा से जुड़े संगठन इस तरह की घटनाओं को अंजाम देते हैं।

सवाल है कि क्या भारत इस तरह से विश्व में एक ऐसे देश की छवि बना पाएगा जहाँ विदेशी आने से ना डरे? जब इस तरह की घटनाओं की चर्चा अंतर्राष्ट्रीय मीडिया में होगी तो क्या विदेशों में रह रहे भारतियों को लोग सम्मान की नज़र से देख पाएँगे?

क्या यही होगा वो न्यू इंडिया जिसकी बात पीएम मोदी अक्सर करते नज़र आते हैं?

 

Loading...
loading...