आम आदमी पार्टी के नेता व पूर्व पत्रकार आशुतोष ने सोशल मीडिया पर फर्जी तस्वीरें व वीडियों शेयर करने वाले भाजपा नेताओं पर हमला बोला है। आशुतोष ने सवाल किया कि, हमेशा भाजपा वाले फर्जी वीडियो पोस्ट करते पकड़े जाते है। तेजतर्रार पत्रकार रह चुके आशुतोष के अनुसार यह सिलसिला उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर से बंगाल तक जारी है।

दरअसल बंगाल सांप्रदायिक हिंसा में भाजपा प्रवक्ता नुपुर शर्मा, आईटी हेड अमित मालवीय और हरियाणा भाजपा नेत्री विजेता मलिक ने सेव बंगाल के हेशटैग के साथ पुरानी औऱ फर्जी तस्वीर-वीडियो शेयर की थी।

इसके अलावा बंगाल में भाजपा आईटी के एक सदस्य को बंगाल पुलिस ने जेल भी भेजा है। आशुतोष कहते है कि, यह सिलसिला साल 2013 में मुजफ्फरनगर दंगे से शुरू हुआ था जब भी एक फेक वीडियो फैलाया गया था। जिसने देखते-देखते उग्र रूप ले लिया।

अब यह बंगाल तक पहुंच गया है। जो काफी खतरनाक है। आशुतोष ने सवाल उठाते हुए कहा कि, क्यों फर्जी तस्वीर-वीडियो वायरल करने में भाजपा नेता गिरफ्तार हो रहे हैं ?

आपको बता दें कि, फर्जी तस्वीरों से सेव बंगाल करने में जुटे भाजपा नेताओं ने पुराने वीडियो और फर्जी तस्वीरों का सहारा लिया।

Loading...
loading...