महाराष्ट्र के कोरेगांव में हुई हिंसा पर देशभर में हंगामा खड़ा हो गया है। भारतीय जनता पार्टी पर तमाम सवाल खड़े हो रहे हैं।

दलितों पर जिन लोगों ने अत्याचार किया वह प्रधानमंत्री मोदी औऱ मुख्यमंत्री देवेंद्र फडनवीस के करीबी बताए जा रहे हैं।

संभाजी भिडे उर्फ गुरूजी पर इस हिंसा के लिए केस दर्ज हुआ है लेकिन पुलिस ने अबतक गिरफ्तार नहीं किया है।

वहींं मुंबई के एक कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे दलित नेता जिग्नेश मेवाणी पर एफआईआर दर्ज कर ली। उसके अलावा किसानों के लिए आवाज़ उठा रहे सामाजिक कार्यकर्ता अखिल गोगई को भी गिरफ्तार कर लिया।

जेएनयूएसयू के पूर्व अध्यक्ष मोहित पाण्डेय ने लिखा कि, आज सुबह किसान रैली में हिस्सा लेने पहुँचे अखिल गोगोई के दो साथियों को हिरासत में ले लिया गया.

मुंबई में छात्र भारती के सैकड़ों साथियों और दिल्ली व इलाहाबाद के साथियों को डिटेन कर लिया गया.

अपराधी योगी जी खुद से खुद पर से केस हटा लिए हैं। महाराष्ट्र में हिंसा भड़काने वाले RSS के दो सरगना खुलेआम घूम रहे हैं।

आपको बता दें कि, कोरेगांव विवाद को लेकर विपक्ष भाजपा पर हमले कर रहा है। वहीं मीडिया इसे जातिवादी रंग देकर एक अलग एंगल निकाल रहा है।

Loading...
loading...