भागलपुर के नाथनगर में हुए उपद्रव मामले में  केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी चौबे के पुत्र अर्जित शाश्वत चौबे समेत कई बीजेपी नेताओं के ख़िलाफ एफआईआर दर्ज की गई है।

एफआईआर नाथनगर थाने में दरोगा हरि किशोर सिंह के बयान के आधार पर दर्ज की गई है। जिसमें अर्जित शाश्वत के अलावा भाजपा नगर अध्यक्ष अभय घोष उर्फ सोनू ,प्रमोद वर्मा ,देव कुमार पांडे ,निरंजन सिंह, संजय, सुरेंद्र पाठक,अनूप लाल साह और अज्ञात लोगों को आरोपी बनाया गया है।

इन लोगों पर बिना अनुमति के बाइक जुलूस निकालने तेज आवाज में डीजे में आपत्तिजनक गाना बजाने के साथ-साथ माहौल बिगाड़ने का आरोप है। एफआईआर में कहा गया है कि अर्जित की अगुवाई में जुलूस को एक अल्‍पसंख्‍यक जाति के मोहल्‍ले से निकाला गया और फिर माहौल को बिगाड़ने की नियत से भड़काऊ नारे लगाए गए।

दोनों गुटों के बीच हुए इस टकराव में जमकर पथराव और फायरिंग हुई। जिसमें कई पुलिसवाले जख्मी हो गए। एफआईआर में एक सिपाही को गोली लगने की बात भी कही गई है।

बता दें कि भारतीय नववर्ष की पूर्व संध्या पर भागलपुर के नाथनगर में निकले जुलूस के बाद दो पक्षों में हिंसक झड़प हो गई थी, जिसमें 60 लोग घायल हो गए थे।

Loading...
loading...