एक तरफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कहते हैं ये गांधी का देश है, उनके विचारों पर अमल करना चाहिए। दूसरी तरफ उनके ही अंडर में आने वाली दिल्ली पुलिस के अधिकारी गांधी का अनादर करते हैं और कहते हैं छोड़ो, गांधी तो बहुत दूर चले गए।

दरअसल शहजाद पूनावाला और तहसीन पूनावाला समेत कुछ सामाजिक कार्यकर्ता दिल्ली में शांतिपूर्ण विरोध प्रदर्शन कर रहे थे । तभी दिल्ली पुलिस उन्हे उनकी जगह से हटाने का प्रयास करती है।

इस पर वह कहते हैं कि शांतिपूर्ण प्रदर्शन करना हमारा अधिकार है, ये गांधी का देश है हम उनके दिखाई राह पर चल रहे हैं । इसके जवाब में मुंह बनाते हुए दिल्ली पुलिस का अधिकारी कहता है ‘अरे महात्मा गांधी चले गए, बहुत दूर चले गए।

पुलिस द्वारा अनादर करने पर प्रदर्शनकारी नाराज हो जाते हैं और उससे सवाल करते हैं कि गांधी का देश नहीं तो क्या यह गोडसे का देश है

दिल्ली पुलिस के इस बर्ताव को किसी ने अपने मोबाइल में रिकॉर्ड कर लिया और अब यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

दिल्ली पुलिस अफसर के गांधी वाले बयान की सोशल मीडिया पर काफी निंदा की गई। यूजर ने सोशल मीडिया पर लिखा कि, गांधी चले गए, बहुत दूर क्योंकि अब गोडसे आ गए हैँ

ट्विटर के टॉप टैंड में ‘गांधी चले गए’ चलने लगा। यूजर ने अफसर के बयान की निंदा की है।

आपको बता दें कि, मासूका कानून को लेकर शांति प्रदर्शन रह रहे लोगों से दिल्ली पुलिस ने बदसलूकी की।

Loading...
loading...