एक ओर गोरखपुर में दो दिन में तीस से ज्यादा बच्चों को प्रशासन की लापरवाही के कारण अपनी जान गवांनी पड़ी तो वहीं प्रदेश के बरेली जिला के अंतर्गत आने वाले नवाबगंज में घर में सो रही दो बहनों पर अनजान लोगों ने पेट्रोल छिड़ककर आग के हवाले कर दिया। दोनों लड़कियों को पास के अस्पताल में भर्ती किया गया है, जहां उनका उपचार चल रहा है।

खबरों के मुताबिक, दरवाजा तोड़कर घर में दाखिल हुए बदमाशों ने बिस्तर में सो रही दोनों बहनों पर पेट्रोल छिड़ककर उन्हें आग के हवाले कर दिया। आग में झुलसती लड़कियों की चीख सुनकर घर वालों ने उन्हें बचाया और नजदीक के अस्पताल में ले गए।

18 वर्षीय गुलशन की हालत काफी गंभीर है वहीं गुलशन की छोटी बहन फिजा जिसकी उम्र 17 साल है उनकी 40 प्रतिशत शरीर जल गया है।

छोटी बहन फिजा ने बताया कि, मैं और मेरी बहन जब रात में एक ही बिस्तर में सो रहे थे तब बदमाशों ने आग के हवाले कर दिया। हम उन्हें पहचान नहीं पाए। जब हम जागे तो वो भाग गए। हम उनका चेहरा नहीं देख पाए। दोनों लड़कियों की मां ने बताया कि मैं नहीं जानती ये किसने किया। हमारी किसी के साथ भी किसी प्रकार की दुश्मनी नहीं है।

पुलिस ने इस मामलें शिकायत दर्द कर ली है, और जांच के लिए एक टीम भी बना ली है। पुलिस का कहना है कि वह जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार कर लेगी।

Loading...
loading...