मुंबई हमलों के मास्‍टर माइंड और जमात-उद-दावा के प्रमुख हाफिज सईद ने कहा कि उसका संगठन देश में मंदिरों एवं गैर-मुस्लिमों के अन्य पवित्र स्थानों का विध्वंस नहीं होने देगा। पाकिस्तान के सिंध प्रांत स्थित मतली शहर में  एक सभा को संबोधित करते हुए सईद ने कहा कि मुस्लिमों की ये जिम्मेदारी है कि वे अपने हिंदू भाईयों के पवित्र स्थलों की रक्षा करें।

हाफिज सईद ने संगठन पर लगे चरमपंथ के आरोपों का खंडन किया। संगठन पर भारत की सीमा से सटे सिंध के थार के गरीबी से प्रभावित क्षेत्रों में सेमिनरी खोलकर चरमपंथ को बढ़ावा देने का आरोप लगाया गया। डॉन के अनुसार, सईद ने कश्‍मीरी मुसलमानों से समर्थन की मांग की है।

Loading...
loading...