इस बार गुजरात चुनाव में बीजेपी की जनसभा में खाली कुर्सियों ने खूब चर्चा हो रही मगर मीडिया की सुर्खियों से ये खबर गायब है।

लेकिन स्थानीय मीडिया इसे हाथों हाथ ले रहा है। जिग्नेश मेवाणी ने ट्विटर पर पोस्ट करते हुए लिखा कि दोस्तों गुजरात के सीएम रूपानीजी की वड़गांव की सभा में खाली रही कुर्सियां क्योंकि जनता को भी पता चल गया है कि रुपाणी जी सिर्फ मोदी और अमित शाह का ही सुनते है, जनता का नही।

इससे पहले भी मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने जब बाइक रैली निकली थी उस वक़्त भी उनके मुश्किल से 20 लोग थे जिनमें ज़्यादातर उनके समर्थक थे न की जनता।

ऐसा पहली बार नहीं हुआ जब बीजेपी की जनसभा में कुर्सियों खाली होना देखा गया। ऐसा तब देखा गया जब प्रधानमंत्री मोदी खुद भी रैली करने राजकोट पहुचें हुए थे और वहां भीड़ न होने के कारण उन्हें रैली में देरी करने पड़ा था।

बता दें कि गुजरात में पहले चरण का चुनाव 9 दिसंबर को होने है। ऐसे में जनसभाओं में भीड़ न होना बीजेपी के न की सिर्फ चिंताजनक बल्कि ये बीजेपी के खतरें की घंटी भी साबित हो सकती है।

 

Loading...
loading...