मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में पुलिस ने दो हवाला कारोबारी के पास से 80 लाख रुपये बरामद किए है। पुलिस के अनुसार ये पैसे भोपाल से मुंबई ले जाये जा रहे थे। नोटबंदी को बीते करीब एक साल होने को है। उसके बाद भी इतनी भरी मात्रा में नोट का पकड़ा जाना क्या दर्शाता है।

दरअसल पुलिस के अनुसार उन्हें मुखबिर से सूचना मिली थी कि कुछ लोग हवाला के जरिए बड़ी रकम भोपाल से बाहर ले जाने की तैयारी में हैं। इस सूचना के आधार पर उन्होंने पुलिस को सतर्क कर दिया।

ये भी पढ़े- गुजरात में भाजपा का बुरा हाल, CM योगी खाली सड़कों पर हाथ हिलाते रहे, नाराज जनता नहीं जुटी

इसी दौरान दो युवकों को एक बैग के साथ रोका गया। बैग में करीब 500 से 2000 नोट की की गड्डियां मिलीं।जो मिलाकर 80 लाख रुपये होती है।

हालांकि दोनों आरोपी पकड़े गए है। जिनका नाम दयानंद और हरीश  बताया जा रहा है। जिन्होंने ये कुबूल भी कर लिया है वो हवाला का कारोबार करते है और इस पैसे वो व्यापारियों की यह रकम लेकर मुंबई जा रहे थे। इस पैसे के एवज में 5% से 8% का कमीशन खाने वाले तो ये दोंनों एक छोटी मछली कहे जा सकते है।

पुलिस के बताया कि दोनों आरोपियों से नकदी बरामद होने की सूचना आयकर विभाग को दे दी गई है। साथ ही यह पता लगाने की कोशिश की जा रही है कि हवाला कारोबार में भोपाल के और कौन से व्यापारी शामिल हैं।

ये भी पढ़े- मोदी सरकार पर भड़का CRPF जवान, लिखा- शिकायत पर पीटते है अफसर ऐसी ‘निकम्मी सरकार’ चुनी है आपलोगों ने

मगर जो सवाल अब भी उठ रहा वो ये जब नोटबंदी की गई तो प्रधानमंत्री का ये भी कहना था इससे गैरकानून काम रोकेगा। बाद में सरकार के कई मंत्रियों ने नोटबंदी होने का फ़ायदा सुनाया ज़रूर मगर उसी ठीक बाद ऐसे खुलासे और गिरफतारियों ने सवाल पैदा किया है।

आखिर इन पैसों को इतने बड़े स्थर पर दे कौन रहा है। बेशक ये भोपाल पुलिस की बड़ी सफलता है। मगर जब इतने नोट एक साथ फिर से काले कारोबार में लग जा रहे तो नोटबंदी करने का मतलब क्या था।

ये भी पढ़े- यशवंत सिन्हा के बाद BJP सांसद शत्रुघ्न सिन्हा भी बोले- भ्रष्टाचारी चाहे ‘शाह’जादा हो या ‘फकीर’ जांच होनी चाहिए

 

Loading...
loading...