कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के उस आरोप का जवाब दिया है जिसमे उन्होंने कांग्रेस और नेहरू-गांधी परिवार को गुजरात के लोगों से घृणा करने वाला बताया था।

राहुल गांधी ने सोमवार को कहा कि उनके परिवार के राजनीतिक गुरु महात्मा गांधी हैं जो एक गुजराती थे, उनकी सोच को हमने आत्मसात किया।

इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत करते हुए राहुल ने कहा, “मेरे परिवार के राजनीतिक गुरु महात्मा गांधी हैं जो एक गुजराती थे। हमने इसे मूल रूप से आत्मसात किया है और इसे साझा किया है। यह गुजराती सोच है, हम राज्य को नहीं व्यक्ति (जनता) को देखते हैं।

गुजरात ने भारत को बहुत ताकत दी है – चाहे वह सरदार वल्लभभाई पटेल हों या गांधीजी। यह एक तथ्य है, लेकिन भाजपा में तथ्यों को तोड़-मरोड़ कर पेश करने की शैली है।”

राहुल के गुजरात नवसरंजन यात्रा के समापन दिवस पर, कोटा आंदोलन का केंद्र माने जाने वाले, मेहसाणा शहर में पाटीदार समाज द्वारा राहुल को एक शानदार रिसेप्शन दिया गया। इससे एक दिन पहले, उन्होंने भाजपा का गढ़ कहे जाने वाले, पाटण और मेहसाणा ज़िले में प्रचार किया था।

पाटीदारों को संबोधित करते हुए राहुल ने कहा, “भाजपा सरकार ने आप पर गोलियां चलाई, आपको लाठी से पीटा, उन्होंने अत्याचार किए हैं। कांग्रेस सरकार परिवर्तन लेकर आएगी।”

Loading...
loading...