मौजूदा समय में सोशल मीडिया एक ऐसे प्लेटफोर्म के रूप में हमारी ज़िन्दगी का हिस्सा बन चुका है जहाँ हम समाज और सरोकार को लेकर क्या सोचतें हैं, शेयर करते हैं।

यूँ देखा जाए तो पिछले कुछ सालों में सोशल मीडिया पर लोग खुलकर अपनी बात सामने रख रहें हैं और तमाम वैचारिक मतभेद रखने वाले लोग यहाँ इकठ्ठा हो कर एक-दूसरे की मान्यताओं को तर्कों से काटते हैं।

लेकिन अब इस सोशल प्लेटफोर्म पर असामाजिक लोगों का भी एक हुजूम दिखाए पड़ने लगा है जो दरअसल लड़कियों के प्रति अपनी दबी कुंठित सोच को चौराहे से उठाकर यहाँ उड़ेलने लगे हैं।

सोशल मीडिया पर लड़कियों के साथ छेड़-छाड़ और अभद्र भाषा का इस्तमाल करने का यह सिलसिला काफी समय से चल रहा है जिसे सिर्फ सिरफिरे पागल-दीवाने या छिछोरापन कहकर नज़रंदाज़ नहीं किया जा सकता। बल्कि इसके खिलाफ आवाज़ उठानी चाहिए। और आवाज़ उठाई भी जा रही है।

ऐसे कई मामले सामने भी आ चुके हैं जब फेसबुक पर लड़कों की इस हरकत को लड़कियों ने बड़ी हिम्मत और समझदारी के साथ बेनकाब किया। ऐसा करके लड़कियों ने उन लड़कों को सबक तो सिखाया ही है साथ ही तमाम लड़कियों को गलत बात बर्दाश्त न करने का संदेश भी दिया।

अब फेसबुक पर कुछ ऐसा ही पत्रकार मीना कोटवाल के साथ हुआ जब किसी राहुल शर्मा के एक शख्स ने उन्हें अपशब्द भरे कई मैसेज किए।लेकिन मीना ने हिम्मत दिखाते हुए राहुल के साथ हुई बातचीत को सोशल मीडिया पर शेयर कर दिया।

 

untitled
untitled

  • नवेद अख्तर
Loading...
loading...