पाकिस्तान के साथ मिलकर साजिश रचने वाली बात कहकर पीएम मोदी चौतरफा घिरे नजर आ रहे हैं।हर तरफ से आलोचना झेल रहे मोदी पर अब पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने जवाबी हमला किया है।

राष्ट्रविरोधी साजिश के आरोप के जवाब में मनमोहन सिंह ने कहा है कि वो लोग हमें राष्ट्रभक्ति न सिखाएं जो बिना बुलाए पाकिस्तान चले जाते हैं और आतंकी हमले के बाद भी पाकिस्तानी खुफिया संगठन आईएसआई (ISI) को बुलाकर हमारा एयर बेस घुमाते हैं ।

प्रेस रिलीज के जरिए उन्होंने कहा- ‘गुजरात में हार के डर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जो झूठ बोला है उससे मुझे गहरा दुख हुआ है। निजी लाभ के लिए PM जैसे जिम्मेदार व्यक्ति का द्वारा फैलाई गई अफवाह की नींव से खतरनाक राजनैतिक परंपरा पनपेगी।

कांग्रेस पार्टी को उनसे राष्ट्रवाद सीखने की जरूरत नहीं है जिनका आतंक से लड़ने में रिकॉर्ड बेहद खराब रहा है। मैं श्री नरेंद्र मोदी को याद दिलाना चाहता हूँ कि उधमपुर और गुरदासपुर में आतंकी हमले के बाद वह बिना बुलाए पाकिस्तान गए और पठानकोट हमले के बाद संदिग्ध आईएसआई संगठन को हमारे एयर बेस में आने की अनुमति दी।

पिछले 5 दशकों की मेरी सेवा का जो रिकॉर्ड रहा है उसे सब जानते हैं। थोड़े से राजनैतिक लाभ के लिए उसपर कोई भी सवाल नहीं उठा सकता, चाहे वह खुद पीएम मोदी ही हों।

मुझ पर लगाए गए इस तरह के झूठे आरोपों को मैं पूरी तरह से खारिज करता हूं और स्पष्ट करता हूं कि गुजरात चुनाव पर किसी भी तरह की चर्चा नहीं हुई।

श्री मणिशंकर अय्यर के यहां आयोजित डिनर में हमने भारत-पाकिस्तान के रिश्तो पर चर्चा की, जिसमें कुछ वरिष्ठ पत्रकार और जाने-माने लोकसेवक  भी शामिल थे। उनमें से किसी पर भी एंटी नेशनल गतिविधि का आरोप नहीं लगाया जा सकता।

उम्मीद करता हूं कि इतने जिम्मेदार पद को संभालने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी थोड़ी सी परिपक्वता दिखाएंगे। साथ ही ये भी  मुझे उम्मीद है कि मोदी जी  पूरे देश से इस बात के लिए माफी मांगेंगे और प्रधानमंत्री पद की गरिमा को बरकरार रखेंगे।’

 

 

Loading...
loading...