महाराष्ट्र के भीमा-कोरेगांव मामले पर बसपा सुप्रीमो मायावती का बयान आ चुका है। मायावती ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि, “हिंसा को रोका जा सकता था, इसे जानबूझकर बढ़ाया गया।”

मायावती ने भाजपा को दोषी ठहराते हुए कहा कि “सरकार ने सुरक्षा के इंतज़ाम नहीं किये थे और एक षडयंत्र के तहत ये सब हुआ। इसके पीछे भाजपा और आरएसएस का हाथ है। उन्होंने इस घटना को अंजाम दिया है।”

मायावती ने इस घटना पर अफ़सोस जताते हुए कहा कि, “हमारी पार्टी इस घटना की निंदा करती है और मामले पर कार्यवाई की मांग करती है।”

आपको बता दें कि महार समुदाय को लोग जब पेशवा पर विजय दिवस को मनाने युद्ध स्मारक पर जा रहे थे तो बीच में उन्हें रोका गया और मारपीट की गई।

इस घटना के बाद ये मामला आग की तरह पूरे महाराष्ट्र में फैल गया। इसमें इक युवक की मौत भी हो चुकी है  मामले पर आठ दलित संगठनों ने महाराष्ट्र बंद का ऐलान किया है।

Loading...
loading...