मुंबई। बॉलीवुड सिंगर सोनू निगम के ‘अज़ान’ को लेकर दिए विवादित बयान पर छिड़ी बहस थमने का नाम नहीं ले रही। उनके इस बयान पर प्रतिक्रियाओं का दौर जारी है। इसी बीच जिस मस्जिद के लाउडस्पीकर की आवाज़ से कथित तौर पर परेशान होकर सोनू ने ट्वीट किया था उसके ट्रस्टी गुलाम दस्तगीर पारकर ने सोनू के बयान को लेकर उनपर निशाना साधा है।

सोनू निगम के घर  से 600 मीटर की दूरी पर स्थित नवोबिया मस्जिद के ट्रस्टी गुलाम दस्तगीर पारकर ने सोनू पर आरोप लगाते हुए कहा कि सोनू पिछले छह महीने से किसी और के नाम से वर्सोवा पुलिस स्टेशन में शिकायत कर रहे हैं। इसी संबंध में उन्हें पुलिस का नोटिस भी मिल चुका है। उन्होंने बताया कि इससे आस-पास के लोगों को कोई समस्या नहीं है।

ये भी पढ़ें- मैं रोज़ सुबह अज़ान की आवाज़ और चर्च की घंटियों से उठती हूं, यहीं तो मेरे देश की खूबसूरती है- पूजा भट्ट

मस्जिद के ट्रस्टी ने कहा कि इस वक्त सोनू का काम नहीं चल रहा इसलिए वह यह सब कर रहे हैं। उनको अज़ान के बारे में कुछ भी कहने का कोई हक नहीं है। यहां बीते 40 साल से अज़ान हो रही है। उन्होंने बताया कि सोनू का घर यहां से काफी दूर है, जबकि उनसे ज्यादा करीब रहने वाले लोगों को कोई तकलीफ नहीं है।

ये भी पढ़ें- अज़ान सुनने के पैसे नहीं मिलते अगर मिलते तो आमिर खान की फिल्म में ‘अज़ान’ गा रहे होते- सोशल

गुलाम दस्तगीर ने कहा कि अगर इतनी ही दिक्कत थी तो सोनू खुद आकर हमसे बात कर सकते थे। उन्होंने कहा कि सोनू को ये समझ लेना चाहिए कि अज़ान की आवाज उनकी आवाज से कहीं ज्यादा सुरीली है।

#Bollywood Singer #Sonu Nigam #Azaan Controversy #Mosque Trustee #Ghulam Dastgeer

Loading...
loading...