सुप्रीम कोर्ट के जजों ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस करके जो बोला है उससे यह बात साफ हो गई है कि सिर्फ भारत की न्याय व्यवस्था ही खतरे में नहीं है बल्कि पूरा देश खतरे में है।

इस देश पर सांप्रदायिक गुंडों और आर्थिक लुटेरों ने कब्जा कर लिया है।

यह लोग देश की संसद, चुनाव आयोग, मानवाधिकार आयोग सेना और पुलिस सबको अपने कब्जे में लेकर उन्हें भी अपनी गुंडागर्दी और लूट में शामिल कर रहे हैं।

आज सुप्रीम कोर्ट के 4 जजों ने देश के समस्त नागरिकों को सामाजिक कार्यकर्ता और बुद्धिजीवियों को एक चेतावनी दी है कि अगर बचा सकते हो तो अपने इस देश को, समाज को और लोगों को बचा लो।

इस देश की फिक्र करने वालों को जल्दी तुरंत कोई कार्यवाही करनी पड़ेगी और इन गुंडों से देश को आजाद कराना पड़ेगा।

Loading...
loading...