देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अपनी मां की याद आई तो अपना एक दिन का योगा छोड़कर अपनी मां से मिलने पहुंच गए।

हालांकि उनके मिलने पर बवाल काफी हुआ क्योंकि उन्होंने सारी दुनिया को बताने के लिए सोशल प्लेटफॉर्म ट्विटर पर लिख दिया कि, आज मैं एक दिन का योगा छोड़कर अपनी मां से मिलने जा रहा हूं।

जिसके बाद आप संयोजक व दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल ने चुटकी लेते हुए कहा कि, मोदी ने अपनी मां को राजनीति में इस्तेमाल कर लिया।

उन्होंने नोटबंदी में अपनी बुजुर्ग मां को बैंक भेज दिया जिसके बाद आज मिलने का सारी दुनिया में ढिंढोरा पीट दिया। जबकि मैं रोजाना अपनी मां से मिलता हूँ उनसे आशीर्वाद लेता हूँ लेकिन मैं कभी इस तरह ट्विटर पर लिखकर सबको नहीं बताता हूँ।

पीएम मोदी के इस तरह मां से मिलने की बात सोशल मीडिया पर लाने का मुद्दा पूरे दिन विपक्ष के हमलों से गूंजता रहा।

लेकिन कांग्रेस की छात्र ईकाई नेशनल स्टूडेंट्स यूनियन ऑफ इंडिया यानि की एनएसयूआई ने पीएम मोदी के ट्विट पर सवाल करते हुए एक ऐसा सवाल कर दिया जिसका जबाव शायद ही किसी राजनेता को देते बनेगा।

NSUI ने तीन महीनें से लगातार अपने लापता बेटे के लिए गिरते एक मां के आंख से आंसू पर पीएम मोदी से सवाल कर दिया।

NSUI ने कहा कि, नरेंद्र मोदी सर, एक बार और अपना योगा छोड़ दीजिए और दिल्ली में दो-तीन महीनें से रोती नजीब की मां को उसका बेटा दिला दीजिए।

आपको बता दें कि राजधानी दिल्ली स्थित जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी का होनहार छात्र नजीब अहमद बीते 15 अक्टूबर 2016 से लापता है।

जिसे दिल्ली पुलिस अभी तक न खोज पाई न उसके आरोपियों को कोई ठोस सजा दिला पाई है। ऩजीब की मां फातिमा अपने बेटे के लिए हर जगह दरख्वास्त कर रही है। लगातार रो रही है। लेकिन उसके बेटे का कोई अता-पता नहीं चल रहा है।

Tag- #NarendraModi #ArvindKejriwal #NSUI #NajeebAhmad #JNU #Twitter