नोटबंदी से परेशान किसान,मजदूर व आमलोगों के लिए मोदी सरकार के खिलाफ जनाक्रोश यात्रा पर निकले कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी सोमवार को राजस्थान के बारां पहुचें।  उन्होंने यहाँ एक रैली में केंद्र और राज्य सरकार पर हमला करते हुए कहा कि पिछले ढाई सालों में मोदी ने सिर्फ हिंदुस्तान को बांटने का काम किया है। और वहीँ काम अब वसुंधरा राजे राजस्थान में कर रही हैं। राजस्थान और दिल्ली, दोनों जगह सूट-बूट की सरकार है।’

राहुल ने कैशलेस पर चुटकी लेते हुए कहा कि पीएम मोदी ने वैसे ही किसानों, गरीबों का कैश जला दिया है। जिसके कारण अब देश के सारे गरीब कैशलेस हो गए हैं।

उन्होंने कहा, ‘जबसे मोदी सरकार आई है, तब से देश के 1 फीसद अमीर लोगों के हाथों में भारत का 60 प्रतिशत धन केंद्रित हो गया है।’ राहुल ने कहा, ‘ये वही लोग हैं, जो मोदी जी के साथ विमान में बैठकर अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड जाते हैं।’

‘प्रधानमंत्री की मार्केटिंग के लिए पैसा देश के रईस देते हैं। इसीलिए मोदी उनसे पैसा नहीं ले सकते हैं। इन 50 परिवारों ने सरकारी बैंकों से 8 लाख करोड़ रुपये का कर्जा लिया हुआ है।

मोदी जी की परेशानी यह है कि वह किस तरह अपने इन दोस्तों का कर्जा माफ कराएं। इसके लिए PM ने नोटबंदी का फैसला किया और मजदूरों, किसानों, गरीबों और मध्यम वर्ग की बलि चढ़ाई।’

काले धन के मुद्दे पर बोलते हुए राहुल ने कहा, ‘सारा काला धन नकद में नहीं है और सारा नकद काला धन नहीं है। हिंदुस्तान की 99 प्रतिशत जनता के पास जो पैसा है, वह ईमानदारी और खून-पसीने की कमाई का है। दूसरी तरफ 1 प्रतिशत लोग, यानी महज 50 परिवारों के पास जो पैसा है वह ईमानदारी का नहीं है।’

उन्होंने कहा, ‘हिंदुस्तान के चोर पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा होशियार और कंजूस होते हैं। ये अपना काला धन नकद में नहीं, बल्कि रियल एस्टेट, स्विस बैंक खातों और सोने में रखते हैं।’

राहुल गांधी ने ‘नमकहलाल’ फिल्म के एक गाने का जिक्र करते हुए कहा, ‘मैं मोदी जी की तरह अच्छा गा नहीं सकता, इसीलिए पढ़कर सुना देता हूं। अमिताभ बच्चन जी की फिल्म नमकहलाल का गाना है कि राम नाम जपना, पराया माल अपना। यही मोदी जी का हाल है।’

Loading...
loading...