पवित्र अमरनाथ यात्रा में आतंकियों के मंसूबों को नेस्तानाबूद करने वाला ड्राइवर मोहम्मद सलीम की गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपानी ने जमकर सराहना की है।

मोहम्मद सलीम ही उस बस को चला रहा था जिस पर आंतकी हमला हुआ। जिसने बहादुरी और सतर्कता दिखाते हुए अपनी जान की परवाह न करते हुए कई यात्रियों की जान बचा ली।

सलीम के कंधे पर गोली लगी फिर भी उसके सामने पवित्र यात्रियों का श्रद्धा थी जिसे वह बचाना चाहता था। वह लगातार गाड़ी को आंतकियों से बचाकर निकालता रहा। आखिर में ड्राइवर की हिम्मत औऱ सूझ बूझ ने करीब पचासों यात्रियों की जान बचा दी। लेकिन अफसोस कि आतंकियों ने 7 यात्रियों की जान ले ली।

सलीम की इसी बहादुरी पर फ़िदा होते हुए गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपानी ने कहा कि, बस ड्राइवर का नाम बहादुरी (वीरता) अवार्ड के लिए भेजेंगे।

वहीँ सलीम ने इस घटना के बारे में कहा कि, भगवान ने मुझे ताकत दी जिसकी वजह से मैं बस लेकर भागने में सफल हुआ। मैंने तय कर लिया था कि कुछ भी हो, मैं बस नहीं रोकूंगा।

गौरतलब है कि, सोमवार को कश्‍मीर के अनंतनाग में अमरनाथ यात्रा से लौट रहे यात्रियों से भरी जिस बस पर आतंकियों ने हमला वह बस गुजरात की थी।

Loading...
loading...