देश में सांवले औऱ गोरेपन पर छिड़ी बहस में अभिनेत्री सोनाली बेंद्रे ने अब किसी ऐसी कंपनी का विज्ञापन करने से इंकार कर दिया जो त्वचा के रंग को लेकर भेदभाव पैदा करता हो। या फि समाज मे पूर्वाग्रह को बढ़ावा देता हो। उन्होने यह फैसला पार्च्ड फिल्म की अभिनेत्री तनिष्ठा चटर्जी के साथ एक शो में हुए भेदभाव के बाद लिया है।

सोनाली ने कहा, “मुझे लगता है कि किसी की त्वचा के रंग को लेकर मजाक करना बिल्कुल गलत है। हालांकि, मुझे इस बात की खुशी है कि हर कोई इन बातों के प्रति जागरूक हो रहा है, इसलिए मैं भी हूं।

ये भी पढ़ें ये सिर्फ सर्जिकल स्ट्राइक भर नहीं है- रवीश कुमार 

उन्होंने आगे कहा कि मैंने अपने करियर की शुरुआत में गोरेपन से संबंधित कुछ विज्ञापनों में काम किया है, क्योंकि उस समय मुझे पैसे की ज़रूरत थी लेकिन अब अगर मुझे ऐसी पेशकश होती है, तो मैं गोरेपन वाले विज्ञापन नहीं करूंगी।”

(फेसबुक पर हमसे जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें- Facebook )

Loading...
loading...