समाजवादी पार्टी के नेता नरेश अग्रवाल ने फर्जी गौरक्षकों पर बड़ा हमला किया है। भीड़ की तरफ से मारपीट कर आम लोगों को मारने की लगातार हो रही घटनाओं पर राज्यसभा में बहस हो रही थी। बहस के दौरान बोलते हुए सपा नेता ने कहा कि,’कुछ लोग हिन्दू धर्म के फर्जी ठेकेदार बन गए है’।

अग्रवाल ने कहा कि,’ भाजपा और विश्व हिन्दू परिषद् कहती है कि जो उनसे सर्टिफिकेट नहीं लेगा वो हिन्दू नहीं है। इसके बाद उन्होंने कई और टिप्पणियां भी की जिसपर विवाद हुआ।

नरेश अग्रवाल के ‘भगवान और अल्कोहल’ पर कुछ कह देने से राज्यसभा में हंगामा शुरू हो गया। विपक्ष ने उसने माफी मांगने की मांग की।

संसदीय कार्यमंत्री अनंत कुमार ने कहा कि, नरेश अग्रवाल की टिप्पणियों से हिन्दू धर्म का अपमान हुआ है। उनको माफ़ी मांगनी चाहिए। हंगामे के बाद उनके बयान को राज्यसभा की कार्यवाही से हटा लिया गया।

Loading...
loading...