देश भर में चल रहे किसान आंदोलन की गंभीरता को सरकार जिस तरह से अनदेखा कर रही है, उसे चेतावनी देते हुए आज जंतर मंतर पर एक बड़ा विरोध प्रदर्शन किया गया।

जिसमें भारतीय किसान यूनियन के अलावा बंधुआ मुक्ति मोर्चा के स्वामी अग्निवेश और स्वराज अभियान से योगेंद्र यादव ने भी भाग लिया।

सरकार की शोषणकारी नीतियों की पोल खोलते हुए स्वामी अग्निवेश कहते हैं ‘इस सरकार की पोटली अमीरों के लिए हमेशा खुली रहती हैं और गरीबों की मदद की बात आती है तो लाचार होने का नाटक करने लगती है।’

टेलीकॉम कंपनियों का लाखों करोड़ों रुपए का कर्जमाफी करने वाली ही सरकार किसानों की कर्ज़माफ़ी के लिए तरह-तरह के बहाने बताती है।

वह कहते हैं समस्या धन की नहीं है, समस्या नीयत की है। सरकार के एजेंडे में पहले उद्योगपति आते हैं ना कि किसान। और इस सरकार ने साबित कर दिया कि, यह उद्योगपतियों के हित ही इसके लिए सर्वोपरि है।

किसान मजदूर आंदोलन की एकता का संदेश देते हुए जंतर मंतर पर उपस्थित स्वामी अग्निवेश ने आह्वान किया है कि किसानों के सामने परिस्थितियां ऐसी आ गई हैं कि आर पार की लड़ाई के बिना कुछ नहीं मिलने वाला है।

Loading...
loading...