अररिया में राष्ट्रीय जनता दल प्रत्याशी सरफराज आलम की जीत पर लगे तथाकथित देश विरोधी नारों पर तेजस्वी ने सवाल उठाया है।

तेजस्वी ने लिखा कि, बिहारियों के खून में हिंदुस्तान बसता है। भारत विरोधी नारेबाजी बीजेपी और नीतीश कुमार के नागपुर वाले दोस्तों की साजिश हो सकती है। जांच हो। बिलकुल जाँच हो।

दोषियों को कड़ी से कड़ी सज़ा मिले। लेकिन फ़ोरेंसिक लैब की रिपोर्ट आए बिना कोई किसी नतीजे पर कैसे पहुँच सकता है?

इतिहास और आँकड़े गवाह है पहले जेएनयू में भी इन्होंने ख़ूब ऐसा Video चलाया था लेकिन जाँच होने पर फ़र्ज़ी Video निकला। पहले Video को सत्यता जाँच ले कहीं doctored ना हो। सही पाने पर दोषियों को कठोर सज़ा का पुरज़ोर समर्थन करते है।

मीडिया के कुछ BJP समर्थित चैनलों ने चुनाव पूर्व BJP अध्यक्ष द्वारा ISI हब बनने संबंधित बयान पर कोई डिबेट नहीं? हमारे जीतने के बाद सुशील मोदी के सांप्रदायिक दृष्टिकोण पर चर्चा नहीं।

गिरिराज सिंह के कट्टरपंथी टिप्पणी पर कोई चर्चा और बहस नहीं। लेकिन बहस बिना जाँच के Video पर।

आपको बता दें कि, सरफराज़ आलम अररिया से सांसद चुने गए हैं। उन्होंने भाजपा के प्रदीप सिंह को 60 हजार वोटों से हराकर जीत दर्ज की।

Loading...
loading...