गुजरात के मेहसाणा में रैली को संबोधित करते हुए कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगाए। राहुल के आरोपों पर सफाई देते हुए केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने मोदी की तुलना गंगा से कर दी। रवीशंकर प्रसाद ने कहा कि मोदी गंगा की तरह पवित्र हैं। फिर क्या था सोशल मीडिया पर छिड़ गई बहस और शुरु हो गया ह्यूमर-सटायर का दौर।

राय साहब लिखते हैं ,”वेल, सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में कहा है कि गंगा को साफ करने में 18 साल लग जाऐंगे”।

 

आरती लिखती हैं, रविशंकर प्रसाद ने कहा है कि मोदी गंगा की तरह साफ हैं, तो फिर बीजेपी गंगा को साफ करने के लिए कितने पैसे खर्च करेगी?

आदित्य ने लिखा, अब हमें उनको(पीएम मोदी) को साफ करने लिए राष्ट्रीय अभियान की ज़रूरत है।

कोनार्क लिखते हैं,”मोदी गंगा की तरह पवित्र तभी गंगा को साफ करने के लिए करोड़ों खर्च करने पड़ रहे हैं।