16 मई 2014 को प्रचंड बहुमत के साथ नरेंद्र दामोदर दास मोदी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की पूर्ण बहुमत की सरकार बनाई थी।

‘अच्छे दिन’ के सपने दिखाकर पीएम मोदी ने गद्दी तो हासिल कर ली पर शायद उन सपनों को उड़ान नहीं दे पाए। तभी आज शायद तीन साल की सरकार हो जाने के बावजूद भी लोग उनसे सवाल कर रहे हैं। अच्छे दिन कहां है ? 15 लाख खातों में आएंगे की या नहीं ! या फिर हर साल 2 करोड़ जॉब देने का वादा कहां गया ?

आज पूरा विपक्ष एकजुट होकर सवाल जवाब कर रहा है। 2019 तक 10 करोड़ नौकरियां देने के वादे का क्या हुआ ? ऐसे तमाम सवाल जो कभी पीएम मोदी विपक्ष में होकर किया करते थे। उनका जवाब नहीं दे पा रहे हैं।

सरकार के तीन साल पूरे होने पर सोशल यूजर ने पीएम मोदी को जगाने की मुहिम चलाई है। एक यूजर ने लिखा कि, उठो लाल अब आंखे खोलो ! तीन साल पूरे हो गए !

मतलब यह कि सरकार गहरी नींद में सोई हुई है। ज्यादातर वादे जुमले साबित हो रहे हैं। अच्छे दिनों में निर्दयी होकर क्रूर लोग इंसानों को बेरहमी से पीट-पीटकर मार डाल रहे हैं। तभी ऐसे सवाल उठ रहे हैं। जहां सरकार को जगाने की कोशिशें की जा रही हैं।

Loading...
loading...