दिल्ली में आज गुजरात के नवनिर्वाचित विधायक जिग्नेश मेवानी ने युवा हुंकार रैली का आयोजन किया। दिल्ली पुलिस द्वारा इज़ाज़त ना मिलने के बावजूद भी जिग्नेश मेवानी पीछे नहीं हटे और कार्यक्रम का आयोजन किया।

युवा हुंकार रैली के मंच से कन्हैया और शेहला राशिद ने लव जिहाद के मुद्दे को उठाया। जब जिग्नेश ने लव जिहाद के मुद्दे पर बोलना शुरू किया तो उन्होंने कहा कि हमारे साथियों ने सही कहा है, हम लव जिहाद वाले नहीं है, हम तो प्यार मोहबब्त जिंदाबाद वाले है।

फिर जिग्नेश ने हसंते हुए कहा कि मेरे ऊपर भी हिंसा भड़का कर केस दर्ज कर दिया लेकिन ये बात किसी को कन्वेंशिंग नहीं लगता। उन्होंने आगे कहा कि मुझे गुजरात विधानसभा चुनाव लड़ने के लिए ‘सिलाई मशीन’ चुनाव चिह्न मिला। मैने अपने पूरे चुनाव प्रचार के दौरान यही कहा कि 22 साल से गुजरात के अंदर तोड़ने की राजनीति हुई है हम जोड़ने की राजनीति करने आए हैं।

गुजरात चुनाव का जिक्र करते हुए जिग्नेश ने कहा कि जिस प्रकार गुजरात के अंदर अल्पेश ठाकोर, जिग्नेश मेवाणी और हार्दिक पेटल ने मिलकर युवा वर्ग कि अगुवाई करते हुए बीजेपी के 150 सीट के सपने पर पानी फेर दिया, उसी के कारण हमको निशाना बनाया जा रहा है।

जिग्नेश ने कहा कि हम किसी भी समुदाय, जाति और धर्म के खिलाफ न थे न होंगे। हम इस देश के लोकतंत्र में विश्वास रखते हैं। इस देश के संविधान और संविधान के मुल्यों में विश्वास रखते हैं। सावित्रीबाई फूले, भगत सिंह और बाबा साहेब अंबेडकर की फिलासफी को मानते हैं।

इसलिए मैं कहता हूं कि आप हमारे ऊपर हमले करवाईए, गाली-गलौज कीजिए, फर्जी मुकदमे दर्ज कीजिए, उनसब के बावजूद हम संविधान की ही बात करेगे और प्यार इश्क मोहब्बत का गाना गाएंगे।

Loading...
loading...