योगी सरकार के राज में महिलाएं कितनी सुरक्षित है। इस बात का अंदाजा आप उत्तर प्रदेश पुलिस के महिलाओं के साथ किए जा रहे बर्ताव से लगा सकते हैं।

जहां एक तरफ राज्य में रेप और हत्या की घटनाओं का सिलसिला बढ़ता चला जा रहा है। वहीं यूपी पुलिस द्वारा अब महिलाओं के साथ बदसलूकी आम बात बन चुकी है।

आज हाथरस गैंगरेप पीड़िता के परिवार से मिलने पहुंचे तृणमूल कांग्रेस के नेताओं के साथ यूपी पुलिस ने धक्का-मुक्की की। इसके साथ ही पार्टी की महिला नेताओं के कपड़े फाड़ दिए गए।

दरअसल यूपी में गैंगरेप पीड़िता को इंसाफ दिलाने के लिए समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं द्वारा विरोध प्रदर्शन किया जा रहा था। इस दौरान यूपी पुलिस ने समाजवादी पार्टी की महिला नेता पूजा यादव के साथ शर्मनाक हरकत की है।

पुलिस द्वारा पूजा यादव पर हमला कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। सोशल मीडिया पर पूजा यादव को गिरफ्तार कर रही पुलिस की तस्वीरें वायरल हो रही है।

जिसमें साफ तौर पर देखा जा सकता है कि यूपी पुलिस ने समाजवादी पार्टी की महिला नेता पूजा यादव को बुरी तरह से दबोचा हुआ है।

बताया जा रहा है कि पुलिस ने गिरफ्तारी के दौरान पूजा यादव के कपड़े तक फाड़ दिए। उन पर लाठियों के साथ हमला कर दिया। इस मामले में पूजा यादव ने खुद ट्वीट कर पुलिस की इस शर्मनाक हरकत की तस्वीरें शेयर की हैं।

उन्होंने लिखा है कि “बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ की बात करने वाली सरकार आज बेटियों को सड़क पर चलने के लिए भी रोक रहे हैं। प्रदेश में बेटियों पर अत्याचार तो रोक नहीं सकते लेकिन उनकी आवाज उठाने के लिए बेटियों को जरूर गुनहगारों की तरह रोका जा रहा है।”

इसके साथ ही महिला पत्रकार कविश ने भी ट्वीट कर यूपी पुलिस पर हमला बोला है। उन्होंने लिखा है कि “कल कांग्रेस नेता अमृता धवन के कपड़े फाड़े। यूपी पुलिस ने आज पूजा शुक्ला का कपड़ा फाड़ते दिखी कमर पे, पीठ पर, पेट पर लाठियां चलाईं और अंत में पैर तोड़ दिया”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here