दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने लखीमपुर हिंसा मामलें के बाद पुलिसिया कार्यवाई पर नाराजगी जताते हुए मोदी सरकार पर जोरदार हमला बोला है।

केजरीवाल ने केंद्र सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा, ”लखीमपुर में जो भी हुआ देश उसकी चर्चा कर रहा है। अभी तक हत्यारों को गिरफ़्तार क्यों नहीं किया है? आखिर क्या मज़बूरी है? उन्हें क्यों बचाया जा रहा है?

इतनी भीड़ के सामने कोई इतने लोगों को कुचलते हुए निकल जाए और पूरा सिस्टम उस हत्यारे को बचाने में लग जाए। ऐसा तो फिल्मों में हम देखा करते थे।

उन्होंने आगे कहा, “प्रधानमंत्री जी आज हर देशवासी टीवी और सोशल मीडिया पर देख रहा है कि एक गाड़ी आई और किसानों को रौंदते हुए निकल गई, उस गाड़ी ने सिर्फ किसानों को नहीं कुचला बल्कि पूरी सरकार और सिस्टम को ही कुचल दिया है।”

इस दौरान केजरीवाल ने कहा कि आज एक तरफ सरकार आज़ादी का अमृत महोत्सव मना रही है और दूसरी तरफ विपक्ष के नेता जब मृतक के परिवारों से मिलने जा रहे हैं,

तो उन्हें जेल में डाला जा रहा है ये कौन-सी आज़ादी का जश्न है। उन्होंने कहा कि सभी चाहते हैं कि जो हत्यारे हैं उन्हें गिरफ्तार किया जाए।

उन्होंने सरकार से सवाल पूछा है कि वहां पर ऐसा क्या हो गया कि वहां ना किसान, ना पत्रकार, ना किसी विपक्ष के नेता को जाने दिया जा रहा है? सच्चाई जानना देश के लोगों का अधिकार है। आखिर ऐसा क्या और क्यों हुआ?”

बता दें कि यूपी के लखीमपुर खीरी में रविवार को किसानों के प्रदर्शन के दौरान मंत्री अजय मिश्र टेनी के बेटे आशीष मिश्रा ने किसानों को गाड़ी से कुचल दिया।

इस हिंसा में हुई 8 लोगों की मौत को लेकर राजनीति गरमा गई है। अलग-अलग पार्टियों के नेता लखीमपुर खीरी आने का प्रयास कर रहे हैं, लेकिन सरकार विपक्ष के नेताओं को लखीमपुर खीरी जाने से रोक रही है।

इसके कारण केन्द्र सरकार सवालों के घेरे में है कि क्यों वो विपक्ष को लगातार रोक रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here