प्रधानमंत्री मोदी की सुरक्षा में हुई कथित चूक का मामला अब नया मोड़ लेता दिख रह है। कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से एक वीडियो शेयर किया है, जिसमें कुछ लोग भाजपा का झंडा लिए नारे लगाते नज़र आ रहे हैं।

मल्लिकार्जुन खड़गे ने वीडियो शेयर करते हुए लिखा है, ”मोदी जी, क्या यह सबूत नहीं है कि आपने पंजाब के लोगों और कांग्रेस के सीएम को बदनाम करने की कोशिश की? पीएम और देश की सुरक्षा के लिए एकमात्र खतरा बीजेपी कार्यकर्ता हैं?”

वीडियो उसी रोज़ का बताया जा रहा है, जिस रोज़ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पंजाब में एक फ्लाईओवर पर फंस गए थे। सवाल उठता है कि जब फ्लाईओवर पर नारा लगाने वाले भाजपा के ही लोग थे तो प्रधानमंत्री ने जान का खतरा किससे बताया? क्या पीएम को भाजपा के लोगों से ही खतरा था? क्या भाजपा के पोस्टर बॉय नरेंद्र मोदी अपने ही कार्यकर्ताओं से डरते हैं?

दूसरा सवाल ये कि भाजपा का झंडा लिए लोग प्रधानमंत्री के काफिले के इतने करीब कैसे पहुंच गए? प्रधानमंत्री की सुरक्षा की जिम्मेदार एजेंसियों ने भीड़ को नज़दीक आने ही क्यों दिया? ऐसे में अगर भीड़ में शामिल होकर कोई दुर्दांत अपराधी किसी अप्रिय घटना को अंजाम दे देता तो इसकी जिम्मेदारी किसकी होती?

बता दें कि 5 जनवरी को  हुसैनीवाला के राष्ट्रीय शहीद मेमोरियल से 30 किलोमीटर पहले जैसे ही पीएम मोदी का काफिला फ्लाईओवर पर पहुंचा तो वहां कुछ प्रदर्शनकारियों ने सड़क को जाम कर रखा था। इस दौरान पीएम मोदी वहां 15-20 मिनट तक फंसे रहे। प्रधानमंत्री के काफिले में आयी अड़चन को सुरक्षा में चूक बताया जा रहा है।

इस घटना के बाद प्रधानमंत्री को पंजाब के अपने तमाम कार्यक्रमों को रद्ध करना पड़ा। कार्यक्रम रद्ध होने के बाद प्रधानमंत्री मोदी बठिंडा एयरपोर्ट पहुंचे जहां उन्होंने एयरपोर्ट के अधिकारियों से कहा- अपने मुख्यमंत्री को मेरा शुक्रिया कहना कि मैं बठिंडा एयरपोर्ट तक जिंदा पहुंच सका।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here