पश्चिम बंगाल की धरती से आज लोकसभा चुनाव के लिए विपक्षी दल एकजुट हुए। बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने जब ब्रिगेड परेड ग्राउंड पर टीएमसी की ‘यूनाइटेड इंडिया’ रैली का आयोजन किया।

तो देश के मुख्य विपक्षी दल ममता का साथ देने सीधे कोलकता पहुँच गए इनमें यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री से लेकर दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम में हिस्सा लिया।

अब भले ही विपक्षी इकट्टा हो रहें हो मगर भारत का मीडिया या कहे गोदी मीडिया इसे किस निगाह से देख रहा है इसका अंदाज़ा आज न्यूज़ चैनलों पर चलती हैडलाइन से ही लगाया जा सकता है। देश में सबसे ज्यादा देखें जाने वाले एबीपी न्यूज़ चैनल पर हैडिंग दी गई ‘मोदी एक दुश्मन अनेक’

BJP नेता की दुकान से ‘हथियार’ बरामद होते हैं, लेकिन ‘गोदी मीडिया’ ख़ामोश रहता है, क्यों?

इस हैडिंग में विपक्षी दलों को दुश्मन करार दे दिया गया जबकि मीडिया का काम सत्ता के साथ नहीं विरोध में होकर उसकी आलोचना करना और समीक्षा करना होता है। मगर भारत का मीडिया अब ऐसा नहीं रह गया।

इसी बात को आरजेडी सांसद मनोज झा ने भी नोटिस किया और सोशल मीडिया पर लिखा, कोलकाता में विपक्ष के समवेत स्वर के बाद बीजेपी से ज्यादा बेचैनी/हताशा भक्त चैनल्स में दिखी।

BJP IT सेल का काम क्यों कर रहा है ABP न्यूज़? विपक्ष की महारैली को बताया ‘देशद्रोहियों’ का जमावड़ा!

हबीब जालिब से लाख होंठों पे दम हमारा हो

और दिल सुबह का सितारा हो

सामने मौत का नज़ारा हो

लिख यही ठीक है मरीज़ का हाल

अब कलम से इजारबंद ही डाल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here