मोदी सरकार के तमाम दावों के बीच ऑटो सेक्टर में मंदी का दौर जारी है। अब हिंदुजा ग्रुप की फ्लैगशिप कंपनी अशोक लेलैंड के वाहनों की बिक्री में भारी गिरावट दर्ज की गई है। कंपनी के कमर्शियल वाहनों की कुल बिक्री अक्टूबर महीने में 35 प्रतिशत गिरकर 9,857 वाहन रह गई। पिछले साल इसी महीने में कंपनी ने 15,149 वाहन बेचे थे।

अशोक लीलैंड ने एक बयान जारी कर इस बात की जानकारी दी। बयान में बताया गया है कि कंपनी के घरेलू कर्मशियल वाहनों की बिक्री 9,074 यूनिट्स के साथ 37 फीसद कम रही, जबकि एक साल पहले महीने में यह 14,341 यूनिट्स थी। वहीं घरेलू बाजार में मिडियम और हैवी कमर्शियल वाहनों की बिक्री पिछले साल अक्टूबर में 9,062 यूनिट्स की तुलना में 50 फीसद घटकर 4,565 यूनिट्स रह गई।

कंपनी ने कहा कि इसी तरह लाइट कमर्शियल व्हीकल की बिक्री भी 15 फीसद घटकर 4,509 यूनिट्स रह गई जो पिछले साल इसी महीने में 5,279 यूनिट्स थी।

बता दें कि देश में ऑटोमोबाइल सेक्टर इस दौरान सुस्ती के दौर से गुजर रहा है। सुस्ती की वजह से भारत की कई जानी-मानी ऑटोमोबाइल कंपनियों की बिक्री घटी थी। अशोक लेलैंड ने इसी मंदी के खिलाफ़ अपना विरोध दर्ज करते हुए अक्‍टूबर में देश के अलग-अलग हिस्‍सों में 15 दिन तक प्रोडक्‍शन का काम ठप रखा था।

हालांकि कंपनी ने उन प्‍लांट का जिक्र नहीं किया था जहां प्रोडक्‍शन बंद है यह लगातार दूसरा महीना है। जब अशोक लीलैंड ने अपने प्‍लांट बंद रखने का फैसला लिया था। इससे पहले सितंबर में कंपनी ने प्लांट्स में 5 से 18 दिन तक कामकाज बंद रखने का ऐलान किया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here