subhash sarkar
Subhash Sarkar

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लोगों से लगातार कोरोना को लेकर अफ़वाह ना फैलाने की अपील कर रहे हैं। लेकिन उनकी इस अपील को उनकी ही पार्टी के सांसद नजरअंदाज करते नज़र आ रहे हैं। बीजेपी सांसद सुभाष सरकार के ख़िलाफ़ कोरोना को लेकर अफ़वाह फैलाने के आरोप केस दर्ज किया गया है।

सुभाष सरकार पश्चिम बंगाल के बांकुड़ा ज़िले से सांसद हैं। उन्होंने राज्य की ममता सरकार को घेरने के लिए कोरोना जैसी महामारी का सहारा लिया। उन्होंने दावा किया था कि प्रशासन ने कोरोना से मरने वाले दो लोगों को गुप्त रूप से दफना दिया। जबकि उन दोनों की रिपोर्ट कोरोना निगेटिव थी।

पुलिस ने बीजेपी सांसद सुभाष सरकार के खिलाफ अफवाह फैलाने के आरोप में भारतीय दंड संहिता और आपदा प्रबंधन अधिनियम (डीएमए), 2005 की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है।

बीजेपी सांसद के ख़िलाफ़ तृणमूल कांग्रेस नेता जयदीप चट्टोपाध्याय ने बांकुड़ा सदर पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई थी। शिकायत में जयदीप ने कहा था कि बीजेपी सांसद ने सोशल मीडिया पर कहा था कि अधिकारियों ने दो शवों के दाह संस्कार में गलती की और दावा किया कि उन दोनों की कोरोना वायरस से मौत हुई थी।

बता दें कि सरकार ने इस मामले पर 13 अप्रैल को सोशल मीडिया पर लिखा था। सुभाष सरकार के खिलाफ पुलिस की यह कार्रवाई मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की 15 अप्रैल की चेतावनी के बाद सामने आई है, जिसमें उन्होंने कहा था कि कोविड-19 को लेकर गलत सूचना फैलाने वाले लोगों को कानूनी कार्रवाई का सामना करना पड़ेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here