भारतीय जनता पार्टी में ऐसे कई नेता शुमार हैं। जो विवादित और भड़काऊ बयान देने के लिए जाने जाते हैं। दरअसल देश में हिंदुत्व का एजेंडा चलाने वाली भाजपा के कई बड़े पदों पर सांप्रदायिक सोच रखने वाले नेता कार्यरत हैं।

इसी बीच भाजपा युवा मोर्चा के नवनियुक्त अध्यक्ष और सांसद तेजस्वी सूर्य का एक बयान काफी सुर्खियों में बना हुआ है।

जिसमें उन्होंने बेंगलुरु को आतंकी गतिविधियों का केंद्र करार दिया है। दरअसल भारत के गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात के दौरान भाजपा युवा मोर्चा के अध्यक्ष तेजस्वी सूर्य ने यह बात कही है।

अपने इस बयान में भाजपा युवा मोर्चा के अध्यक्ष तेजस्वी सूर्या ने अमित शाह से बेंगलुरु में एनआईए का स्थाई विभाग स्थापित करने के लिए कहा है।

इस मामले में कर्नाटक से कांग्रेस नेता श्रीवत्स ने भारतीय जनता पार्टी पर निशाना साधा है। उन्होंने ट्वीट कर कहा है कि “मुंबई पीओके है, केरल सोमालिया है, बेंगलुरु आतंकियों का अड्डा है। जबकि उत्तर प्रदेश राम राज्य है। सच्चाई यह है कि मोदी सरकार और भाजपा के नेता सबसे बड़े झूठे हैं।”

गौरतलब है कि भाजपा युवा मोर्चा के अध्यक्ष तेजस्वी सूर्य द्वारा बेंगलुरु को टेरर हब कहने से पहले भाजपा समर्थक कंगना रनौत ने मुंबई को पीओके बताया था।

इसके विपरीत उत्तर प्रदेश में योगी सरकार के शासनकाल में महिला अपराध चरम सीमा पर पहुंच गया है। हाल ही में उत्तर प्रदेश के कई शहरों से रेप और हत्या की दिल दहलाने वाली खबरें सामने आई हैं।

भाजपा द्वारा अयोध्या मामले में फैसले के बाद यूपी को रामराज्य करार दिया जा रहा है। जबकि योगी सरकार ने राज्य में गुंडाराज और जंगलराज स्थापित हो कर दिया है।

ऐसे राम राज्य में आए दिन महिलाओं के साथ घिनौने अपराध को अंजाम दिया जा रहा है। इस वक़्त यूपी के हाथरस गैंगरेप कांड के कारण लोग गुस्से में हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here