‘हमारे 5,000 वर्ष पुराने संस्कृति में, यह पहली बार है कि कांग्रेस-राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) ने शांतिपूर्वक रहने वाले हिंदुओं को आतंकवादी कहने का पाप किया और पूरी दुनिया के सामने उनकी छवि धूमिल करने का काम किया। ये वोट बैंक की राजनीति के लिए किया और वे इसकी रक्षा के लिए किसी भी हद तक जाएंगे। इसलिए कांग्रेस-NCP आम हिंदुओं को अपमानित करने का काम कर रही है।’

ये बयान पीएम मोदी ने पिछले सोमवार को महाराष्ट्र के वर्धा में दिया था। अब कांग्रेस ने आदर्श आचार संहिता उल्लंघन बताते हुए चुनाव आयोग से शिकायत की है। जिसे लेकर महाराष्ट्र के निर्वाचन अधिकारियों से पीएम मोदी के भाषण के तथ्यात्मक रिपोर्ट मांगी है।

पत्रकार ने मोदी से पूछा- आप थकते नहीं है क्या? सिसोदिया का तंज- वाह क्या साहसी सवाल पूछा है ?

कांग्रेस का आरोप है कि पीएम मोदी के बयान नफरत पैदा करने वाले और विभाजनकारी हैं। कांग्रेस का कहना है कि पीएम मोदी ने अपनी जनसभा में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के वायनाड (केरल) से चुनाव लड़ने पर टिप्पणी की थी। उन्होंने कहा था कि राहुल गांधी इसलिए वायनाड गए, क्योंकि वहां हिंदू अल्पसंख्यक हैं और क्षेत्र मुस्लिम बहुल है।

बता दें कि पीएम मोदी भले ही अपनी चुनावी सभा में इस बात का दावा कर रहे हों कि राहुल गांधी केरल की जिस लोकसभा सीट से चुनाव लड़ रहे हैं वहां हिंदुओं की आबादी कम है, लेकिन हक़ीक़त इसके उलट है।

पाक का F-16 सलामत है, बालाकोट में सिर्फ कौआ मरा था, मोदीजी क्या अब भी 56 इंच को थपथपाना है?

वायनाड ज़िले की कुल आबादी 8,17,420 है। ज़िले में हिंदू बहुसंख्यक हैं, जिनकी आबादी 4,04,460 (49।48%) है। इसके अलावा 2,34,185 (28।65%) जनसंख्या मुस्लिम समुदाय की है। क्रिस्चन (ईसाई) समुदाय की बात करें तो जिले में उनकी आबादी 1,74,453 (21।34%) है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here