Surat BJP
Surat BJP

जहां बीजेपी सरकारें प्रवासी मज़दूरों को घर पहुंचाने के लिए उनसे टिकट के पैसे वसूल रही है, वहीं बीजेपी कार्यकर्ता टिकट के नाम पर काला बाजारी करते नज़र आ रहे हैं। वो मज़दूरों से टिकट का पैसा तो वसूल रहे हैं, लेकिन टिकट ज़्यादा दामों में दूसरों को बेच दे रहे हैं।

दरअसल, गुजरात के सूरत में बीजेपी के एक कार्यकर्ता ने कथित तौर पर प्रवासी मज़दूरों से टिकट देने के नाम पर तकरीबन सवा लाख रुपए वसूले, लेकिन उसने मज़दूरों को टिकट देने के बजाए उसकी काला बाजारी की और टिकट ज़्यादा दामों में दूसरों को बेच दी। इतना ही नहीं जब उनमें से एक मज़दूर अपना टिकट लेने के लिए बीजेपी कार्यकर्ता के पास पहुंचा तो उसने मज़दूर की बेरहमी से पिटाई कर दी।

इस मामले का वीडियो भी सामने आया है। जिसमें घायल मज़दूर अपना दर्द बयां करता नज़र आ रहा है। घायल मज़दूर बता रहा है कि बीजेपी कार्यकर्ता राजेश वर्मा को उसने सौ मज़दूरों का टिकट करने के लिए एक लाख सोलह लाख रुपए दिए थे। राजेश ने उससे कहा था कि उसे 6 मई को टिकट मिल जाएगा। लेकीन उसे टिकट नहीं मिला, जिसके बाद वो 7 मई को राजेश के घर पहुंच गया और उससे टिकट मांगने लगा।

टिकट मांगने पर राजेश मज़दूर पर भड़क गया और उसपर जानलेना हमला कर दिया। राजेश ने मज़दूर के सिर पर डंडे से हमला किया, जिससे वो लहूलुहान हो गया। मज़दूर ने अपना नाम वासुदेव बताते हुए कहा कि राजेश ने उससे टिकट के पैसे वसूले और फिर उस टिकट की काला बाजारी की। बीजेपी कार्यकर्ता ने टिकट को दो हज़ार रुपए में दूसरों को बेच दिया।

बता दें कि बीजेपी ने अपने कार्यकर्ताओं को राज्य के अनुसार मजदूरों के नाम दर्ज करने और उनके पास से पैसे लेकर टिकट पहुंचाने का काम सौंपा है। लिंबायत विस्तार से झारखंड जाने के लिए बीजेपी ने राजेश वर्मा को यह काम सौंपा था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here