kapil mishra
Kapil Mishra

ऐसे समय में जब पूरा देश कोरोना जैसी महामारी से जूझ रहा है और इससे निपटने के लिए एकजुट होकर प्रयास कर रहा है, तब बीजेपी के कुछ नेता ऐसे भी हैं जो सिर्फ अपनी राजनीति चमकाने के लिए भड़काऊ बयानों के ज़रिए लोगों को बांटने का काम कर रहे हैं।

दरअसल, बीजेपी नेता कपिल मिश्रा ने मुंबई के बांद्रा में लॉकडाउन -2 की घोषणा के बाद इकठ्ठा हुई भीड़ के मामले को सांप्रदायिक रंग देने की कोशिश की है। उन्होंने ट्विटर के ज़रिए इसे साज़िश करार देते हुए सवाल उठाया है कि आख़िर भीड़ मस्जिद के सामने ही क्यों इकठ्ठा हुई?

बता दें कि बीते कल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा लॉकडाउन बढ़ाए जाने की घोषणा किए जाने बाद मुंबई के बांद्रा में बड़ी तादाद में प्रवासी मजदूर इकट्ठा हो गए थे। भूखे मारने के डर से ये लोग अपने अपने घर वापस जाना चाहते थे। ये नज़ारा दिल्ली के आंनद विहार बस अड्डे जैसा ही था। जहां पहले ही लॉकडाउन की घोषणा के बाद प्रवासी मज़दूर अपने अपने घर वापस जाने के लिए बड़ी तादाद में इकठ्ठा हुए थे।

लेकिन मुंबई के नज़ारे में फर्क बस इतना था कि वहां एक मस्जिद भी स्क्रीन के फ्रेम में आ रही थी। बस फिर क्या था, नफ़रत की दुकान चलाने वाले कपिल मिश्रा के लिए ये नज़ारा किसी ऑक्सीजन से कम नहीं था। उन्होंने फौरन ही मामले में मस्जिद की भूमिका को कटघरे में खड़ा कर दिया। उन्होंने बिना किसी सबूत के इसे मस्जिद द्वारा कि गई देश के खिलाफ साज़िश बताने तक की कोशिश की।

उन्होंने ट्वीट कर लिखा, “जो मुंबई में हो रहा है, हजारों लोग एक साथ एक जगह, यह बिना प्लानिंग के असंभव है। जैसे दिल्ली में बसों में भीड़ भेजी गई, मुंबई में भी वैसी ही साजिश है। ट्रेनें बंद हैं तो भीड़ स्टेशन पर कैसे आई? क्या मास मैसेजिंग हुई? कुछ लोग देश के खिलाफ बहुत गंदी साजिश कर रहे हैं”।

संकट के समय में कपिल मिश्रा द्वारा की गई इस शर्मनाक हरकत की सोशल मीडिया पर जमकर आलोचना हो रही है। लोग कपिल मिश्रा को देश में नफ़रत फैलाने के लिए गिरफ़्तार किए जाने कि मांग कर रहे हैं।

पत्रकार कादम्बिनी शर्मा ने कपिल मिश्रा के ट्वीट पर आपत्ति जताते हुए लिखा, “बिना किसी फैक्ट चेक के इस तरह का ट्वीट और वो भी एक बार नहीं, बार बार। सरकार और आम लोग जब कोरोना जैसी महामारी से जूझ रहे हैं, सबकी परेशानी बढ़ाने वाला, बेवजह भड़काने वाला ये व्यक्ति- इस पर कहीं कोई रोक-टोक, कार्यवाई क्यों नहीं??”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here