शिवसेना नेता संजय राउत ने यूपी के हाथरस गैंगरेप मामले पर कड़ी प्रतिक्रिया दी है। दरअसल पीड़िता के दिल्ली के अस्पताल में दम तोड़ने के बाद पूरा विपक्ष योगी सरकार पर भड़का हुआ है।

दरअसल कल देर रात पीड़िता का शव हाथरस पहुंचने के बाद यूपी पुलिस ने जबरदस्ती और शर्मनाक तरीके से उसका शव जला दिया। परिवार को अंतिम संस्कार का मौका भी नहीं दिया गया।

आपको बता दें कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी और प्रियंका गांधी को दिल्ली से हाथरस जाते हुए आज यूपी पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर लिया गया है। बताया जाता है कि इस दौरान राहुल गांधी के साथ धक्का-मुक्की भी की गई। जिस पर शिवसेना नेता संजय राउत ने गुस्सा जाहिर किया है।

उन्होंने कहा है कि अगर एक दलित और पीड़ित लड़की को बेरहमी से जलाया जाता है। उसके परिवार के गुस्से और आक्रोश को दबाया जाता है तो भाजपा सरकार को बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के नारे लगाने का कोई अधिकार नहीं है।

इस दौरान शिवसेना नेता ने बसपा अध्यक्ष मायावती द्वारा सीएम योगी के इस्तीफे की मांग पर भी प्रतिक्रिया दी है।

उन्होंने कहा है कि सिर्फ मायावती उनका इस्तीफा मांगे इससे कुछ नहीं होगा। एनडीए के सहयोगी दलों के नेताओं को योगी आदित्यनाथ से इस्तीफे की मांग करनी चाहिए।

इस दौरान शिवसेना नेता संजय राउत ने कंगना रनौत के समर्थन में बोलने वाले नेताओं पर भी हमला बोला।

उन्होंने कहा कि पेज 3 वाली अभिनेत्री के अवैध निर्माण पर हुई कार्रवाई पर बोलने वाले अब कहां गए ? जब किसी गरीब की बेटी के जलने पर सबका मुंह क्यों बंद है। ये हम किस तरह के समाज में रह रहे हैं ?

आपको बता दें कि विपक्षी दलों के साथ साथ में बॉलीवुड के कई सितारों ने भी हाथरस से गैंगरेप मामले में भाजपा सरकार को घेरा है। सोशल मीडिया पर पीड़िता को जल्द से जल्द इन्साफ दिलवाने के लिए फांसी की सजा की मांग की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here