पश्चिम बंगाल भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष द्वारा जारी किया गया एक बयान सुर्खियों में आ गया है। दरअसल उत्तर 24 परगना जिले में भाजपा नेता मनीष शुक्ला की हत्या के बाद राज्य में सनसनी मची हुई है।

इस मामले में राज्य में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस को घेरते हुए पश्चिम बंगाल भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष के मुंह से कुछ ऐसा निकल गया है। जिससे भाजपा की ही किरकिरी हो गई है।

दरअसल भाजपा नेता दिलीप घोष ने कहा है कि राज्य में कानून-व्यवस्था की हालत बद से बदतर होती जा रही है।

यहां उत्तर प्रदेश, बिहार की तरह माफिया राज कायम होता जा रहा है। गौरतलब है कि यूपी में भाजपा सरकार है। वहीँ बिहार में जदयू के साथ भाजपा की सरकार है।

शायद भाजपा नेता दिलीप घोष इस बात से अनजान थे कि वह टीएमसी को घेरने की कोशिश में अपनी ही पार्टी की बदनामी कर रहे हैं। या फिर ऐसा भी कहा जा सकता है कि जाने-अनजाने भाजपा नेता के मुंह से सच्चाई निकल आई

भाजपा नेता दिलीप घोष की टिप्पणी पर प्रतिक्रिया देते हुए तृणमूल कांग्रेस ने प्रतिक्रिया जाहिर की है। पार्टी ने कहा कि यह अच्छी बात है कि भाजपा नेता दिलीप घोष ये स्वीकार कर रहे हैं कि इन दोनों राज्यों में माफिया राज है, जहां भाजपा का शासन है।

इस सिलसिले में कांग्रेस नेता पवन खेड़ा ने भी भाजपा नेता दिलीप घोष के बयान पर चुटकी ली है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा है कि दिलीप घोष को ट्रोल मत कीजिए वो एक ईमानदार नेता हैं। जिन्होंने स्वीकारा है कि उनकी पार्टी के शासन वाले यूपी और बिहार की कानून व्यवस्था ठीक नहीं है।

गौरतलब है कि अगले साल पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। जिसके चलते भाजपा राज्य में सत्तारूढ़ ममता बनर्जी की सरकार को घेरने का कोई मौका नहीं छोड़ रही है। दोनों राजनीतिक दलों में इस वक्त जंग छिड़ी हुई है और आरोप-प्रत्यारोप का सिलसिला चल रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here