मोदी सरकार का इस समय काम गिरती जीडीपी, बेरोजगारी, बढ़ती वारदातों से ध्यान भटकना है। तो इन सभी महत्वपूर्ण घटनाओं पर देश की जनता का ध्यान आर्कषित करवाने वाली मीडिया कंगना और सुशांत सिंह में उलझाए पड़ी है।

बढ़ती बेरोजगारी ने बदमाशों को लूट करने की मानो जैसे छूट दे दी हो! कोरोना काल में व्यापारी वर्ग भी परेशान है। योगी सरकार गाइडलाइंस जारी किए जा रही है।

अलीगढ़ में शुक्रवार को बदमाश बन्नादेवी इलाके में एक ज्वेलरी की दुकान में 35 लाख रुपये के जेवरात और 40 हजार नकद लूटकर फरार हो गए।

बदमाशों के हौसले इतने बुलंद थे कि उन्होंने दुकान में घुसते ही हाथ सेनेटाइज किया फिर तीनों बदमाशों ने कट्टे निकाल लिए और इस बड़ी लूट को अंजाम दिया।

इस घटना के बाद से पूरे बाजार के व्यापारियों में डर बैठ गया है। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कहाँ तो बदमाशों में भाजपा सरकार आने की वजह से उनमें डर का माहौल है कि बात करते थे, लेकिन यहां सब उल्टा है।

यूपी की बिगड़ी कानून व्यवस्था देखकर लगता है डर आम जनता में ज़्यादा और बदमाशों में कम है। इस लूट की पूरी वरदात सीसीटीवी टीवी कैमरे में कैद हो गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here