samajwadi party
Samajwadi Party

कोरोना महामारी जैसे भयानक समय में जब विरोधी दल भी राजनीतिक प्रतिद्वंद्वीता भूल कर सरकार का साथ दे रहे हैं और उसमें अपना विश्वास जता रहे हैं। ऐसे में उत्तर प्रदेश की योगी सरकार के खिलाफ खुद बीजेपी के विधायक अविश्वास जता रहे हैं।

हरदोई के गोपमाऊ से भाजपा विधायक श्याम प्रकाश का अपनी सरकार पर भ्रष्टाचार का आरोप लगा दान निधि वापस मांग ली है। बीजेपी विधायक श्याम प्रकाश ने हरदोई जिला प्रशासन पर सीधा आरोप लगाते हुए कोरोना में इस्तेमाल होने वाले उपकरणों में हेरफेर का आरोप लगाया है।

प्रकाश ने विधायक फंड से कोरोना मदद में 25 लाख रुपये दिए थे। अब वो मुख्य विकास अधिकारी को पत्र लिखकर अपने 25 लाख रुपए वापस मांग रहे हैं।

भाजपा विधायक ने स्वास्थ्य विभाग में भ्रष्टाचार का आरोप लगाकर अपनी विधायक निधि के 25 लाख मांगे हैं। उन्होंने कहा मेरी विधायक निधि का पैसा सही से प्रयोग नही किया जा रहा है इसीलिए मेरा पैसा वापस किया जाए। इस चुनौतीपूर्ण समय में खुद भाजपा विधायक अपनी ही पार्टी भाजपा पर गलत तरह से कार्य करने का गंभीर आरोप लगा रहे हैं।

वहीं इस मामले पर समाजवादी पार्टी ने योगी सरकार पर हमला करते हुए लिखा- ‘भला उस सरकार पर कौन विश्वास करे जिस पर उसी के विधायक, मेयर, नेता विश्वास नहीं करते। ये क्या लड़ेंगे और बचाएंगे कोरोना से ? इन्हें तो शराब तस्करी, भ्रष्टाचार से फुर्सत नहीं। हरदोई से भाजपा विधायक का अपनी सरकार पर भ्रष्टाचार का आरोप लगा दान निधि वापस मांगना सीएम की पोल खोलता है।’

इससे पहले आगरा के मेयर नवीन जैन ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिख कर कहा था कि, अगर आगरा के लिए जल्द ठोस कदम नहीं उठाए गए तो आगरा वुहान बन सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here