उत्तर प्रदेश में महिलाओं के साथ दुष्कर्म और अत्याचार के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। एक बार फिर यूपी के गोंडा से ऐसी खबर सामने आई है। जिसने लोगों के बीच सनसनी मचा दी है।

खबर के मुताबिक गोंडा में एक ही परिवार के तीन लड़कियों पर एसिड अटैक किया गया है। ये तीनों लड़कियां दलित समुदाय से आती हैं।

बताया जा रहा है कि तीनों बहने जब घर में सोई हुई थी। तब उनपर एसिड फेंका गया है। जिनमें से दो बहनों पर एसिड के कुछ छीटें पड़े हैं। ये दोनों मामूली रूप से घायल हुई हैं।

जबकि एक बहन के चेहरे पर एसिड पड़ा है। जोकि बुरी तरह से झुलस गई है।

जानकारी के मुताबिक, इन तीनों बहनों की उम्र 8, 12 और 17 साल है। जो कि फिलहाल जिला अस्पताल में भर्ती हैं। इन दिनों बहनों पर किसी अज्ञात शख्स ने एसिड अटैक किया है।

इस मामले में एसओ सुधीर सिंह ने 3 दलित नाबालिग लड़कियों पर एसिड अटैक की पुष्टि करते हुए बताया है कि मौके पर पुलिस की टीम पहुंच गई है।

पुलिस ने घटना की जांच पड़ताल शुरू कर दी है। फिलहाल अभी तक घटना के पीछे के कारणों का नहीं पता चल सका है। गौरतलब है कि यूपी में दलित परिवार की बच्चियों और युवतियों के साथ दुष्कर्म के कई मामले फिलहाल के ही वक्त में सामने आ चुके हैं।

हाल ही में यूपी के हाथरस में 19 साल की दलित युवती के गैंगरेप की घटना ने पूरे देश को हिला कर रख दिया। जिसके बाद योगी सरकार और यूपी पुलिस जनता और विपक्ष के निशाने पर है।

विपक्षी दलों का कहना है कि योगी सरकार महिला सुरक्षा के मामले में पूरी तरह से नाकामयाब साबित हुई है। बेटी बचाओ के नारे के विपरीत आज सरकार के राम राज्य में हर दिन बेटियां राक्षसों की बलि चढ़ा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here